PAN कार्ड ऑनलाइन कैसे बनाएं? सम्पूर्ण जानकारी

भारत में अब किसी भी आयु का कोई भी व्यक्ति, विदेशी नागरिक, NRI, संस्था, व्यक्तियों का समूह, कोई ट्रस्ट, LLP अथवा फर्म इत्यादि पैन कार्ड बनवाने के लिए बहुत ही सरल प्रक्रिया के तहत आवेदन कर सकते हैं। परंतु यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि इन सभी के लिए PAN कार्ड हेतु आवेदन प्रक्रिया अलग-अलग होती है। लेकिन भारतीय नागरिक बहुत ही सरल प्रक्रिया के द्वारा ऑनलाइन अपना पैन कार्ड बनवा सकता है।


विषय-सूची

PAN कार्ड क्या है?

भारत सरकार द्वारा पैन कार्ड को आयकर अधिनियम 1961 के अंतर्गत लागू किया गया है। PAN का मतलब होता है Permanent Account Number (स्थायी खाता संख्या), जो कि 10 अंकों की अल्फ़ान्यूमेरिक (अक्षर तथा अंक दोनों साथ) संख्या होती है। जिसे आयकर विभाग (Income Tax Department) द्वारा निर्धारित किया जाता है, जिसके द्वारा आयकर विभाग; किसी व्यक्ति, फर्म, कम्पनी इत्यादि के वित्तीय लेन-देन पर ध्यान रखता है। जिसका मुख्य उद्देश्य टैक्स चोरी पर नियंत्रण करना होता है।

पैन कार्ड का आकार लगभग डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड (Debit Card and Credit Card) के समान ही होता है, इसमें व्यक्ति की आवश्यक सूचना जैसे; नाम, पिता का नाम, व्यक्ति के हस्ताक्षर तथा व्यक्ति की फ़ोटो लगी होती है। PAN कार्ड एक विशिष्ट पहचान पत्र का कार्य भी करता है, हाल ही में भारत सरकार ने पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करना भी अनिवार्य कर दिया है।

PAN कार्ड आवश्यक क्यों है?

PAN कार्ड वित्तीय लेन-देन करने हेतु एक बहुत ही आवश्यक दस्तावेज होता है, यदि कोई व्यक्ति ₹50000 से अधिक की धनराशि बैंक में जमा करवाता है या निकालता है तो उसे अपना पैन कार्ड दिखाना अनिवार्य होता है। आयकर रिटर्न (Income Tax Return) भरने हेतु भी व्यक्ति के पास पैन कार्ड होना आवश्यक है।

यदि किसी व्यक्ति की सैलरी (Salary) इनकम टैक्स छूट की सीमा से ज़्यादा है तो सैलरी पाने हेतु उस व्यक्ति के पास PAN Card होना अनिवार्य है। धन-सम्पत्ति ख़रीदने अथवा बेचने पर भी पैन कार्ड होना बहुत ज़रूरी है, यहाँ तक कि यदि कोई व्यक्ति गहने, ज़ेवर इत्यादि ख़रीदता अथवा बेचता है तो भी पैन कार्ड दिखाना अनिवार्य है। यह सभी प्रक्रिया CBDT (Central Board for Direct Taxes) के अंतर्गत आती है।

पैन कार्ड हेतु कौन कर सकता है आवेदन?

  • भारत में पैन कार्ड को किसी भी आयु (नाबालिक भी) का कोई भी व्यक्ति बड़ी ही सरलता के साथ बनवा सकता है, यहाँ तक कि NRI और विदेशी नागरिकों को भी यह कार्ड बहुत ही आसान प्रक्रिया के साथ जारी किया जाता है।
  • इसके अतिरिक्त कोई भी संस्था, व्यक्तियों का समूह, कोई ट्रस्ट, LLP अथवा फर्म इत्यादि पैन कार्ड बनवाने के लिए बहुत ही सरल प्रक्रिया के तहत आवेदन कर सकते हैं। हालाँकि आयकर विभाग द्वारा सभी के लिए आवेदन प्रक्रिया अलग-अलग निर्धारित की गई है।

Permanent Account Number – सारणी

पैन कार्ड कब जारी किया गया? 1) साल 1972 में Permanent Account Number की अवधारणा पहली बार भारत सरकार द्वारा शुरू की गई थी।
2) PAN कार्ड 1 अप्रैल 1976 में प्रभावी हुआ व साथ ही आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 139 AA के तहत इसे कानूनी रूप से मान्य कर दिया।
जारीकर्ता आयकर विभाग
आधिकारिक वेबसाइटhttps://www.tin-nsdl.com/index.html
पैन कार्ड हेतु न्यूनतम आयु सीमा PAN कार्ड हेतु किसी भी प्रकार की कोई आयु सीमा निर्धारित नहीं की गई है।
Online PAN Application https://www.onlineservices.nsdl.com/paam/endUserRegisterContact.html
NSDL का Full FormNational Securities Depository Limited (NSDL
भारतीय नागरिक हेतु PAN फ़ॉर्म भारतीय आवेदक फॉर्म 49A या फॉर्म 49AA के द्वारा पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। 
Helpline-Number 1800 222 990, (022) 2499 4200, 020 – 27218080
PAN कार्ड वैधताजीवन भर
पैन कार्ड बनाने का शुल्क भारतीय पते हेतु मात्र ₹107, तथा विदेशी पते हेतु ₹1017
ईमेल-पता tininfo@nsdl.co.in

PAN कार्ड के फ़ायदे – Benefits of PAN card

पैन कार्ड के महत्वपूर्ण लाभ इस प्रकार है:

  1. व्यक्तियों, कम्पनियों एवं संस्थानों को टैक्स भरने के लिए अपना PAN Number देना अनिवार्य होता है। यदि किसी व्यक्ति, फर्म, कम्पनी अथवा संस्था के पास पैन कार्ड नहीं है तो, उन सभी को आयकर विभाग के नियमानुसार अपनी आमदनी का 30% टैक्स देना होगा, चाहे वे किसी भी टैक्स स्लैब के अंतर्गत आते हों।
  2. बैंक में खाता खोलने हेतु भारत सरकार के नए नियमों के तहत पैन कार्ड अनिवार्य दस्तावेज बन गया है। खाता खुलवाते समय, बैंक द्वारा उपलब्ध करवाए गये KYC फ़ॉर्म में व्यक्ति द्वारा अपने पैन कार्ड का विवरण देना आवश्यक होता है। जिससे भविष्य में किसी भी प्रकार के वित्तीय लेन-देन में परेशानी नहीं होती है।
  3. बिजली कनेक्शन, गैस कनेक्शन, इंटरनेट कनेक्शन, मोबाइल पोस्ट-प्लान इत्यादि लेने हेतु यदि ग्राहक के पास कोई वैकल्पिक आईडी प्रूफ जैसे ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी कार्ड आदि उपलब्ध नहीं है तो वह पैन कार्ड का उपयोग पहचान पत्र के रूप में कर सकता है।

PAN कार्ड कब ज़रूरी होता है?

  • कम्पनियों, पार्टनरशिप फर्म तथा अन्य संस्थानों को अपने व्यवसायों का रजिस्ट्रेशन करवाने हेतु पैन नंबर लेना अनिवार्य होता है।
  • GST नम्बर लेने हेतु भी PAN कार्ड आवश्यक होता है।
  • कोई भी व्यक्ति, कम्पनी, संस्था इत्यादि तब ही वित्तीय लेन-देन कर सकती है जब उसके पास PAN Number उपलब्ध हो।
  • किसी भी बैंक में 50,000 रुपये से अधिक की राशि जमा करने पर पैन कार्ड महत्वपूर्ण दस्तावेज के रूप में माँगा जाता है।
  • किसी भी प्रकार की अचल सम्पत्ति की ख़रीद व बिक्री पर पैन कार्ड दिखाना अनिवार्य होता है।
  • दुपहिया वाहन को छोड़कर किसी भी वाहन की बिक्री या खरीद पर पैन कार्ड होना आवश्यक है।
  • यदि कोई व्यक्ति ₹50000 या उससे अधिक के बांड खरीदता है तो उसके पास PAN कार्ड होना आवश्यक है।
  • यदि कोई व्यक्ति भारत के बाहर धनराशि निकालता है तो उसके पास भी पैन नम्बर होना आवश्यक है।
  • विदेशी यात्रा पर यदि ₹25000 से अधिक खर्च किया गया है तो पैन कार्ड दिखाना अनिवार्य होगा।
  • किसी व्यक्ति द्वारा म्यूचुअल फंड स्कीम खरीदने पर या बीमा पॉलिसी खरीदने पर अपना पैन नम्बर देना अनिवार्य होता है।
  • ₹50,000 या उससे अधिक मूल्य के शेयर ख़रीदने पर भी PAN कार्ड होना आवश्यक है।

पैन कार्ड बनाने के लिए ज़रूरी दस्तावेज – Required documents for PAN card

  1. पहचान पत्र हेतु दस्तावेज (किसी भी एक दस्तावेज की फ़ोटोकॉपी)
    • आधार कार्ड
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • वोटर आईडी
    • पेंशनर कार्ड 
  2. पते के प्रमाण पत्र हेतु दस्तावेज (किसी भी एक दस्तावेज की फ़ोटोकॉपी)
    • वोटर आईडी
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • बैंक पासबुक
    • राशन कार्ड
    • गैस कनेक्शन बुक
    • बिजली, पानी व इंटरनेट कनेक्शन का बिल इत्यादि
  3. जन्म प्रमाण पत्र हेतु दस्तावेज (किसी भी एक दस्तावेज की फ़ोटोकॉपी)
    • जन्म प्रमाण पत्र
    • पासपोर्ट
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    •  मैरिज सर्टिफिकेट

ऑनलाइन PAN कार्ड बनाते समय मात्र आधार कार्ड की ही आवश्यकता होती है।


Online PAN Card कैसे बनाएं?/पैन कार्ड हेतु ऑनलाइन फ़ॉर्म कैसे भरें?

Application Type का चयन करें

PAN card official site

  • फ़ॉर्म में आवेदक को सर्वप्रथम Application Type पूछा जाएगा, जहां उसे New PAN Indian Citizen (Form 49A) को चुनना होगा।

PAN card Application type (1)

  • Application Type चुनने के बाद आवेदक को PAN Card की Category पूछी जाएगी, जहां उसे Individual को चुनना होगा।

PAN card category individual (1)

  • तत्पश्चात आवेदक को अपना Title चुनना होगा, यदि आवेदक पुरुष है तो उसे Shri (श्री) चुनना होगा, यदि आवेदक महिला है तो उसे Smt (श्रीमति) चुनना होगा, यदि आवेदक बालिका है तो उसे kumari (कुमारी) को चुनना होगा।

PAN Card application information

  • अब आवेदक को पोर्टल पर अपना Last Name (अंतिम नाम-शर्मा), First Name (पहला नाम-विनोद) तथा Middle Name (मध्य नाम – कुमार) भरना है।

Applicant information (1)

  • इसके बाद आवेदक को फ़ॉर्म में अपना Date of Birth (जन्म की तारीख), अपना Email Address (ईमेल-पता) तथा अपना मोबाइल नम्बर लिखना होगा।
  • अब आवेदक पोर्टल पर नीचे दिए गए नियम व शर्तों के बॉक्स पर क्लिक कर अपनी सहमति प्रस्तुत करें।
  • इसके बाद आवेदक पोर्टल पर दिख रहे Captcha Code को सही भरें और SUBMIT के बटन पर क्लिक करें।
  • SUBMIT बटन पर क्लिक करने के पश्चात आवेदक के सामने एक नया पोर्टल खुलेगा। जहां उसे Continue with PAN Application Form पर क्लिक करना होगा।

Continue with PAN Form

  • अब आवेदक के सामने एक नया पोर्टल खुलेगा। जहां आवेदक से पूछा जाएगा कि आप अपने पैन आवेदन दस्तावेजों को कैसे जमा करना चाहते हैं?

Three Way to submit your PAN details

पैन कार्ड बनाने हेतु डॉक्युमेंट्स ऑनलाइन सबमिट करें

  • पोर्टल पर आवेदक के पास 3 विकल्प मौजूद होंगे।
    • Submit digitally through e-KYC & e-Sign (Paperless) – ई-केवाईसी और ई-साइन (पेपरलेस) के माध्यम से डिजिटल जमा करें
    • Submit scanned images through e-Sign (NSDL e-GOV) – ई-साइन के माध्यम से स्कैन की गई (डॉक्युमेंट इमेजिस) सबमिट करें
    • Forward application documents physically – आवेदन दस्तावेज़ों को डाक के द्वारा जमा करें (यह विकल्प एक प्रकार से ऑफलाइन प्रक्रिया के अंतर्गत आता है)
  • सरल तरीक़े से ऑनलाइन पैन कार्ड बनाने हेतु आवेदक को प्रथम विकल्प Submit digitally through e-KYC & e-Sign (Paperless) चुनना होगा।
  • तत्पश्चात आवेदक से पूछा जाएगा कि क्या उसे भौतिक पैन कार्ड की आवश्यकता है?(Whether Physical PAN Card is required?)

Physical PAN required

हाँ और नहीं का विकल्प चुने

  • यहाँ आवेदक के पास 2 विकल्प मौजूद होंगे।
    • Yes(हाँ)
      e-KYC & e-Sign (Paperless)/e-Sign Scanned Based हेतु Processing Fee Including GST ₹101 देनी होगी
      Physical Mode हेतु Processing Fee Including GST ₹107 देनी होगी
    • No(नहीं)
      e-KYC & e-Sign (Paperless)/e-Sign Scanned Based हेतु Processing Fee Including GST ₹66 देनी होगी
      Physical Mode हेतु Processing Fee Including GST ₹72 देनी होगी
  • आवेदक को यहाँ प्रथम विकल्प Yes का चयन करना होगा।
  • आगे आवेदक को अपने आधार कार्ड के अंतिम 4 अंक लिखने होंगे।

Last four digits of Aadhar

  • आगे आवेदक को अपनी सहमति प्रस्तुत करनी होगी कि जो फ़ोटो उसके आधार कार्ड पर लगी है वह वही फ़ोटो पैन कार्ड पर चाहता है अथवा नहीं।
  • यहाँ आवेदक को Yes का विकल्प चुनना होगा।
  • आगे पोर्टल पर आवेदक का सम्पूर्ण विवरण उपलब्ध होगा, जहां उसे अपना Gender Male, Female अथवा Transgender में से किसी एक को चुनना होगा।

Applicant information

  • आगे पोर्टल पर आवेदक से पूछा जाएगा कि क्या उसे किसी दूसरे नाम से भी पुकारा जाता है या नहीं। (यहाँ No पर क्लिक करना होगा)
  • आवेदक से फ़ॉर्म में आगे उसके माता-पिता का विवरण पूछा जाएगा।

Parents Details

  • माता पिता का विवरण देने के बाद आवेदक से पूछा जाएगा कि वह PAN कार्ड पर माता-पिता में से किसका नाम चाहता है।
  • यहाँ आवेदक अपने अनुसार किसी एक का चयन करें।
  • आवेदक नीचे दिए गए Next बटन पर क्लिक कर आगे बढ़े।
  • आवेदक के सामने अब एक नया पोर्टल खुल जाएगा जहां आवेदक से उसकी व्यक्तिगत जानकारी पूछी जाएगी जैसे; आय का विवरण, ऑफ़िस का पता, घर का पता, मोबाइल नम्बर, ईमेल- पता।

Other information

For PAN card other information

पूछा गया विवरण देने के बाद आवेदक को Next बटन पर क्लिक कर आगे बढ़ना होगा।

AO Code (Area Code) का चयन करें

  • अब आवेदक के सामने AO Code (Area Code) का फ़ॉर्म खुल जाएगा।

AO Code for PAN card

  • सर्वप्रथम आवेदक को Indian Citizens विकल्प पर क्लिक करना होगा।

AO Code Indian Citizen

  • इसके बाद आवेदक अपना राज्य और शहर चुने।
  • तत्पश्चात अपने AO Code का चयन करें। (आपका घर जिस Area में आता है उस क्षेत्र का चयन करें)

AO Code Confirm

  • Next बटन पर क्लिक करें।
  • आवेदक के सामने अब एक नया पोर्टल खुल जाएगा, जहां Declaration के बॉक्स में Himself/Herself पर क्लिक करें।

Declaration himself

  • आवेदक अब Declaration बॉक्स में अपना Address लिखे और Submit बटन पर क्लिक करे।
  • फ़ॉर्म सबमिट होने के बाद आपके सामने एक नया पोर्टल खुल जाता है, जहां आपको अपने आधार के पहले 6 अंक लिखने होते हैं।
  • तत्पश्चात आवेदक सम्पूर्ण फ़ॉर्म को एक बार पुनः जाँच लें।
  • इसके बाद आवेदक Proceed बटन पर क्लिक करें।

Payment Mode का चयन करें

  • Proceed बटन पर क्लिक करते ही आवेदक Payment Process पर चला जाएगा।
  • यहाँ आवेदक के सामने 3 Payment Mode होंगे।
    • Demand Draft
    • Online Payment through PAYTM
    • Online Payment through Bill Desk
  • आवेदक अपने अनुसार पेमेंट मोड़ का चयन करें।
  • इसके बाद आवेदक I Agree बॉक्स पर क्लिक कर Proceed to Payment पर क्लिक करें।
  • इसके बाद Pay Confirm पर क्लिक करें।
  • Pay Confirm पर क्लिक करते ही आवेदक अपने आधिकारिक Payment Gateway पर पहुँच जाएगा।
  • आवेदक Debit Card, Credit Card, UPI, Net banking, Wallet इत्यादि के द्वारा PAN कार्ड हेतु ₹107 का भुगतान कर सकता है।
  • भुगतान होने के बाद Continue बटन पर क्लिक करें।

Aadhaar Authentication करें

  • इसके बाद आवेदक को Aadhaar Authentication करने के लिए Authenticate बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद Continue With e-KYC पर क्लिक करना होगा।
  • आधार कार्ड में रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर पर एक OTP आएगा, प्राप्त OTP को पोर्टल पर दर्ज कर SUBMIT बटन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद Continue With e-Sign पर क्लिक करें।
  • यहाँ आवेदक के सामने एक खिड़की खुलती है जहां चेक बॉक्स पर टिक कर आवेदक को अपना 12 अंकों का आधार नम्बर डालना होता है तथा Send OTP पर क्लिक करना होता है।
  • Send OTP पर क्लिक करते ही आवेदक के मोबाइल नम्बर पर पुनः एक OTP आएगा, जिसे पोर्टल पर भर कर Verify OTP पर क्लिक करें।
  • OTP Verify करते ही PAN कार्ड आवेदन की प्रक्रिया समाप्त हो जाती है।
  • इस तरह से आवेदक ऑनलाइन PAN कार्ड हेतु अपना फ़ॉर्म भर सकता है।
  • उपरोक्त प्रक्रिया के अनुसार आवेदक; बहुत ही सरलता के साथ मात्र 10 मिनट में आधार कार्ड के द्वारा अपना ऑनलाइन पैन कार्ड बना सकता है।
  • आवेदन करने बाद डाक के द्वारा केवल 15 दिनों के अंदर-अंदर पैन कार्ड घर पर आ जाता है।

पैन कार्ड हेतु कौनसा फॉर्म भरें?

  • आवेदक; फॉर्म 49A या फॉर्म 49AA भर कर पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • PAN कार्ड हेतु भारतीय नागरिकों व कंपनियों को फॉर्म 49A तथा विदेशी नागरिकों को फॉर्म 49AA भरना चाहिए।
  • नाबालिग और छात्र भी फॉर्म 49A भर कर पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं।
  • फॉर्म 49A और फॉर्म 49AA; ऑफ़लाइन व ऑनलाइन दोनों जगह आसानी से प्राप्त हो जाते हैं।
  • Offline PAN कार्ड बनाने हेतु Application Form नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर Download करें।

ऑफ़लाइन पैन कार्ड कैसे बनाएं? – How to apply offline for PAN card?

मुख्यतः 3 प्रकार से व्यक्ति अपना ऑफ़लाइन पैन कार्ड बनवा सकता है।

  1. पैन कार्ड के लिए किसी भी ज़िला स्तर की पैन एजेंसी में ऑफलाइन आवेदन किया जा सकता है।
  2. आवेदक अपने नज़दीकी जन-सेवा केंद्र, ई-मित्र अथवा कॉमन सर्विस सेंटर के द्वारा मात्र ₹200 में अपना पैन कार्ड बनवा सकता है।
  3. NSDL या UTIISL की वेबसाइट से पैन कार्ड फ़ॉर्म डाउनलोड करें या UTIISL एजेंट से PAN फॉर्म प्राप्त करें।
    • आवेदक प्राप्त फ़ॉर्म को अच्छे से पढ़कर भरें और साथ ही आवश्यक दस्तावेज (पहचान पत्र, पता और फोटो) लगाएं।
    • आवेदक भरे हुए फ़ॉर्म को NSDL के ऑफ़िस में देय शुल्क (Processing fee) के साथ जमा करवा दें।
    • आवेदन करने बाद डाक के द्वारा केवल 15 दिनों के अंदर-अंदर पैन कार्ड; फ़ॉर्म में लिखे पते पर आ जाता है।

पैन कार्ड ऑनलाइन डाउनलोड कैसे करें? – How to download PAN card online?

Download e-PAN card

  • अब उपभोक्ता के सामने एक पोर्टल खुल जाएगा।
  • पोर्टल पर उपभोक्ता को दो विकल्प दिए जाएंगे।
    • Download e-PAN Card (For PAN allotted in last 30 days)
    • Download e-PAN Card (For PAN allotted older or more than 30 days)
  • उपरोक्त दोनों विकल्पों में से किसी एक का चयन करना होगा।
  • यदि उपभोक्ता का पैन कार्ड पिछले 30 दिनों में आवंटित हुआ है तो पैन कार्ड डाउनलोड करने हेतु उसे किसी भी प्रकार की कोई फ़ीस नहीं देनी होगी।
  • यदि उपभोक्ता का पैन कार्ड पिछले 30 दिनों से पहले आवंटित हुआ है तो पैन कार्ड डाउनलोड करने हेतु उसे ₹8.50 फ़ीस देनी होगी।
  • दोनों विकल्पों में से किसी एक के चयन पश्चात; उपभोक्ता को अपना PAN नम्बर व अपनी जन्म तिथि इत्यादि का विवरण लिखना होगा।
  • सम्पूर्ण प्रक्रिया के बाद उपभोक्ता अपना e-पैन कार्ड डाउनलोड कर सकता है।

PAN कार्ड का स्टेटस चेक कैसे करें? – How to check PAN card status?

Track PAN

  • यहाँ उपभोक्ता के सामने Application Type दिखाई देगा, जहां उपभोक्ता को PAN-New/Change Request का विकल्प चुनना होगा।
  • इसके बाद नीचे दिए गए बॉक्स में उपभोक्ता को अपना ACKNOWLEDGEMENT NUMBER लिखना होगा।
  • आगे उपभोक्ता को Enter the code shown बॉक्स में; ऊपर दिख रहे code को लिखकर Submit के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • सम्पूर्ण प्रक्रिया होने के पश्चात उपभोक्ता अपने पैन कार्ड की स्थिति (status) जान सकता है।

पैन कार्ड खोने की स्थिति में क्या करें? – What to do when PAN card is lost ?

Reprint PAN

  • यहाँ उपभोक्ता के सामने Request for Reprint of PAN Card का पोर्टल खुल जाएगा।
  • पोर्टल पर उपभोक्ता को अपना PAN नम्बर, आधार नम्बर व अपनी जन्म तिथि इत्यादि का विवरण लिखना होगा।
  • सम्पूर्ण विवरण देने के बाद उपभोक्ता को Submit के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • 15 से 20 दिनों में पैन कार्ड दिए गए पते पर पहुँच जाएगा।
  • भारतीय पते हेतु ₹50 देय होंगे।
  • विदेशी पते हेतु ₹959 देय होंगे।

पैन कार्ड से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण सवालों के जवाब – FAQ


स्त्रोत

  1. आधिकारिक वेबसाइटhttps://www.tin-nsdl.com/index.html
  2. Official Application Formhttps://www.tin-nsdl.com/downloads/pan/download/Form_49A.PDF
  3. विश्वसनीय वेबसाइट द्वारा जानकारीhttps://www.paisabazaar.com/hindi/pan-card/

Leave a Comment